जीतने के लिए जज्बा हो तो ऐसा | Fight Back | Paramvir Chakra Yogendra Yadav | Josh Talks Hindi



⭐👇 क्या आप भी बड़े सपने देखते है? ⭐👇
इन सपनो को आप साकार कर सकते है जोश के नए App जोश Skills के साथ!
DOWNLOAD NOW:
इस App पर आप जाने माने experts के साथ Spoken इंग्लिश, Personality Development, Digital Marketing, Time मैनेजमेंट जैसे ५०+ कोर्स से सीख सकते है – वो भी सिर्फ एक मोबाइल रिचार्ज के दाम में! 😮
अभी App का लाभ उठाये, कूपन JOSHYT से आपको मिलेगा 10% OFF!

Josh एक ऐसा तत्त्व हैं जिसके बिना इंसान कोई कार्य कर नहीं सकता.
सूबेदार योगेन्द्र सिंह यादव को उच्चतम भारतीय सैन्य सम्मान परम वीर चक्र से सम्मानित किया गया हैं। परमवीर चक्र भारत का सर्वोच्च शौर्य सैन्य अलंकरण है जो की उच्च कोटि की शूरवीरता एवं त्याग के लिए प्रदान किया जाता है।

कैसे Param Vir Chakra Awardee, Major Yogendra Singh Yadav ने वीरता एवं देश के प्रति प्रेम दिखाते हुए 1999 के Kargil War में अपनी जान की फ़िक्र किए बिना दुश्मन को मौत के घाट उतारा? गणतंत्र दिवस के मौके पे आपके सामने देश प्रेम की एक ऐसी कहानी जो आपका दिल देहला देगी।

Yogendra Singh Yadav, Kargil War Hero अपना सौभाग्य मानते हैं की उन्हें अपने देश के लिए कुछ करने का अफसर मिला। दिल और दिमाग दोनों से ही पत्थर की तरह मजबूत हर काम पुरे सहस और निष्ठा से करते हैं।

सलाम हैं उन Kargil War Heroes को जिन्होंने हमारे सुख और चैन के लिए अपने आप को न्योछावर कर दिया। Major Yogendra Singh Yadav जी ने बताया हैं की कैसे उनकी पल्टन ने कारगिल वॉर में Tiger Hill पर जीत हासिल की।

“The Enemy shot me in the chest and I knew my time has come.”

Words of the Paramveer Chakra Awardee Subedar Major Yogendra Singh Yadav who is present here in front of us to tell us about his journey in his Josh Talk. Son of a farmer and a soldier who got selected in the Indian army at the mere age of 16 years with a passion and Josh of serving his country. Yogendra Singh Yadav Ji shares his amazing experience of conquering Tiger Hill in the 1999 Kargil War. The passion of doing things with patience and courage gives him the edge which is clearly visible in his personality.

On the occasion of Republic Day, we bring you an inspiring Kargil war story of an Indian Army man who took 14 hits and survived to warn his battalion. In a situation where the enemy surrounded him, he had the josh, passion and the heart to push his limits in the name of the nation which led the Indian Army to win the Tiger Hill Top. Tough Indian Army training and the need to serve his nation led to the victory of Indian Army on Tiger Hill Top in the Kargil War of 1999.

Josh Talks Hindi aims to inspire and motivate you by bringing to you the best Hindi motivational videos. What started as a simple conference is now a fast-growing media platform that covers the most innovative rags to riches success stories with speakers from every conceivable background, including entrepreneurship, women’s rights, public policy, sports, entertainment, and social initiatives. With 7 regional languages in our ambit, our stories and speakers echo one desire: to inspire action. Our goal is to unlock the potential of passionate young Indians from rural and urban areas by inspiring them to overcome the challenges they face in their careers or business and helping them discover their true calling in life.

जोश Talks मे हम देशभर से प्रेरणादायक कहानियां इकट्टठा करते हैं और आप तक पंहुचाते हैं. ये कहानियां उन लोगों की होती हैं जिन्होनें मुश्किल परिस्थितियों के आगे भी हिम्मत नहीं हारी और अपने जुनून से सफलता की नई मिसाल कायम की. इन कहानियों को सांझा करने का उद्देश्य है कि हम युवा पीढ़ी में जोश और उत्साह भर सकें. जोश Talks हर उस व्यक्ति के लिए हैं जो जीवन में नई दिशा ढूंढ रहें और कुछ अलग करके दिखाना चाहते हैं. तो जुड़िये जोश Talks से और जानिये आपके ही आस-पास जन्मी मोटीवेशनल कहानियां.

► जोश Talks Facebook:
► जोश Talks Instagram:
► जोश Talks Sharechat:
Josh Talks expresses their heartfelt gratitude towards ADGPI-The Indian

#JoshTalksHindi #KargilWar #KargilVijayDiwas

source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar